मनचाही नौकरी पाने के लिए इस मंदिर जाएं
  • >X

    मनचाही नौकरी पाने के लिए इस मंदिर जाएं

    हैदराबाद से करीब 40 कि.मी दूर एक मंदिर के बारे में जहां बेरोज़गार अपनी नौकरी की तमन्ना लेकर आते हैं। इसके अलावा में लोग वीजा दिलाने की प्रार्थना के लिए भी आते हैं।
  • <>X

    मनचाही नौकरी पाने के लिए इस मंदिर जाएं

    मान्यताओं के अनुसार यहां आने वाला कोई भी भक्त खाली हाथ नहीं लौटता। ये हैदराबाद की सीमा से लगभग 40 कि.मी दूर स्थित चिल्कुर बालाजी के नाम से जाना जाता है। इस मंदिर में लोग चढ़ावे के रूप में हवाई जहाज चढ़ाते हैं।
  • <>X

    मनचाही नौकरी पाने के लिए इस मंदिर जाएं

    लोगों का कहना है कि यहां हवाई जहाज़ चढ़ाने से वीजा मिलना आसान हो जाता है। दर्शानार्थी बताते हैं की वीज़ा के लिए दूतावास के चक्कर लगाने से अच्छा है चिल्कुर बालाजी मंदिर में आ जाएं। जल्द ही आपकी सारी रुकावटें हट जाएगी।
  • <>X

    मनचाही नौकरी पाने के लिए इस मंदिर जाएं

    बता दें कि चिल्कुर बालाजी को वीजा वाले बालाजी के नाम से भी जाना जाता है। ये प्राचीन मंदिर लगभग 500 साल पुराना है। इस मंदिर में लोग नौकरी की मन्‍नतें लेकर भी आते है और उनकी मनोकामना जल्दी पूरी भी हो जाती है।
  • <>X

    मनचाही नौकरी पाने के लिए इस मंदिर जाएं

    लोक कथाओं के अनुसार वेंकटेश बालाजी के एक भक्त हर रोज़ कई किलोमीटर चलकर तिरुपति बालाजी के दर्शन के लिए जाते थे।
  • <>X

    मनचाही नौकरी पाने के लिए इस मंदिर जाएं

    एक दिन अचानक उनकी तबियत खराब हो गई और वे मंदिर नहीं जा पाए। इस दौरान बालाजी ने खुद भक्त को सपने में आकर दर्शन दिए और उसे कहा तुम्हें इतनी दूर जाने की कोई ज़रूरत नहीं है, मैं यहीं तुम्हारे पास इस जंगल में आ जाता हूं।
  • <X

    मनचाही नौकरी पाने के लिए इस मंदिर जाएं

    अगले दिन जंगल में उसी जगह पर मूर्ति की स्थापना की गई, जिसे आज के समय में चिल्कुर बालाजी के नाम से जाना जाता है।