Ganga Saptami 2020: ये हैं गंगा मईया के घर, यहां छुपा है पुण्य का खजाना
  • >X

    Ganga Saptami 2020: ये हैं गंगा मईया के घर, यहां छुपा है पुण्य का खजाना

    प्राचीन धर्मग्रंथों के अनुसार हरिद्वार स्वर्ग के द्वार के समान है। वहां जो एकाग्र होकर कोटि तीर्थ में स्नान करता है, उसे पुंडरीक यज्ञ का फल मिलता है। वह अपने कुल का उद्धार कर देता है।
  • <>X

    Ganga Saptami 2020: ये हैं गंगा मईया के घर, यहां छुपा है पुण्य का खजाना

    वहां एक रात निवास करने से सहस्र गोदान का फल मिलता है। सप्तगंगा, त्रिगंगा और शक्रावर्त में विधिपूर्वक देव ऋषि-पितृ तर्पण करने वाला पुण्य लोक में प्रतिष्ठित होता है।
  • <>X

    Ganga Saptami 2020: ये हैं गंगा मईया के घर, यहां छुपा है पुण्य का खजाना

    इसके बाद कनखल में स्नान करके तीन रात उपवास करें। ऐसा करने वाला अश्वमेध यज्ञ का फल पाता है और स्वर्गगामी होता है।
  • <>X

    Ganga Saptami 2020: ये हैं गंगा मईया के घर, यहां छुपा है पुण्य का खजाना

    इस नगर के कई नाम हैं-हरद्वार, हरिद्वार, गंगाद्वार, कुशावर्त। मायापुरी, हरिद्वार, कनखल, ज्वालापुर और भीमगोड़ा।
  • <>X

    Ganga Saptami 2020: ये हैं गंगा मईया के घर, यहां छुपा है पुण्य का खजाना

    इन पांचों पुरियों को मिलाकर हरिद्वार कहा जाता है। हरिद्वार प्रसिद्ध रेलवे स्टेशन है। कोलकाता, पंजाब तथा दिल्ली से सीधी ट्रेनें यहां आती हैं।
  • <>X

    Ganga Saptami 2020: ये हैं गंगा मईया के घर, यहां छुपा है पुण्य का खजाना

    सड़क मार्ग से भी दिल्ली, देहरादून आदि से यह नगर जुड़ा हुआ है।
  • <>X

    Ganga Saptami 2020: ये हैं गंगा मईया के घर, यहां छुपा है पुण्य का खजाना

    गंगाद्वार (हरि की पैड़ी), कुशावर्त, बिल्वकेश्वर, नील पर्वत तथा कनखल-ये पांच प्रधान तीर्थ हरिद्वार में हैं। इनमें स्नान तथा दर्शन से पुनर्जन्म नहीं होता।
  • <>X

    Ganga Saptami 2020: ये हैं गंगा मईया के घर, यहां छुपा है पुण्य का खजाना

    ये हैं गंगा मईया के घर, यहां छुपा है पुण्य का खजाना-ब्रह्मकुंड या हरि की पैड़ी, कुशावर्त घाट, श्रवणनाथ जी का मंदिर, विष्णु घाट, माया देवी,
  • <>X

    Ganga Saptami 2020: ये हैं गंगा मईया के घर, यहां छुपा है पुण्य का खजाना

    नारायणी शिला, नीलधारा, चंडी देवी, अंजनी, गौरीशंकर, बिल्वकेश्वर, कनखल, दक्षेश्वर महादेव, सतीकुंड, भीमगोड़ा, चौबीस अवतार, सप्तधारा, सत्यनारायण मंदिर और ऋषिकेश।
  • <X

    Ganga Saptami 2020: ये हैं गंगा मईया के घर, यहां छुपा है पुण्य का खजाना

    Caption