• >X

    Kundli Tv- बजरंगबली के इस धाम के बारे में कितना जानते हैं आप?

    ये स्थान या मंदिर समुद्र तल से 8048 फीट की ऊंचाई पर या कहे कि शिमला शहर की बहुत ही खुबसूरत और मनोरम जाखू पहाड़ी पर स्थित है। मान्यता है कि इस चोटी पर अंजनीसुत हनुमान का मंदिर पूरे देश के लोगों की आस्था का केंद्र बना हुआ है।
  • <>X

    Kundli Tv- बजरंगबली के इस धाम के बारे में कितना जानते हैं आप?

    इस मंदिर में जाखू मंदिर के प्रांगण में बजरंगबली जी की 108 फीट ऊंची विशाल प्रतिमा स्थापित है, जिसे शिमला के किसी भी कोने से आसानी से देखा जा सकता है। भक्तों का मानना है कि यहां आने वाले हर भक्त की मुराद पूरी होती है।
  • <>X

    Kundli Tv- बजरंगबली के इस धाम के बारे में कितना जानते हैं आप?

    जब मेघनाथ द्वारा श्रीराम के भाई लक्षमण को मूर्छित कर दिया था। तो श्रीराम की आज्ञा पर हनुमान संजीवनी बूटी लेने गए थे तो इस स्थान से गुज़रे थे। उसी समय उनकी नज़र यहां तपस्या कर रहे यक्ष ऋषि पर पड़ी।
  • <>X

    Kundli Tv- बजरंगबली के इस धाम के बारे में कितना जानते हैं आप?

    हनुमान जी विश्राम करने और संजीवनी बूटी का परिचय प्राप्त करने के लिए जाखू पर्वत के जिस स्थान पर उतरे, और उन्होंने यक्ष ऋषि से वापस जाते हुए उन्होंने मिलकर जाने का वचन दिया। मार्ग में कालनेमि नामक राक्षस के कुचक्र में फंसने के कारण समय के अभाव में हनुमान जी छोटे मार्ग से अयोध्या होते हुए चल पड़े।
  • <>X

    Kundli Tv- बजरंगबली के इस धाम के बारे में कितना जानते हैं आप?

    हनुमान जी विश्राम करने और संजीवनी बूटी का परिचय प्राप्त करने के लिए जाखू पर्वत के जिस स्थान पर उतरे, और उन्होंने यक्ष ऋषि से वापस जाते हुए उन्होंने मिलकर जाने का वचन दिया। मार्ग में कालनेमि नामक राक्षस के कुचक्र में फंसने के कारण समय के अभाव में हनुमान जी छोटे मार्ग से अयोध्या होते हुए चल पड़े।
  • <X

    Kundli Tv- बजरंगबली के इस धाम के बारे में कितना जानते हैं आप?

    कहते हैं जिस स्थान पर उतरकर हनुमान जी ने ऋषि से मिले थे वहां आज भी उनके पद चिह्नों को संगमरमर से बनवा कर रखा गया है। जिसके दर्शनों को आज भी लोग दूर-दूर से आते हैं।