• >X

    Kundli Tv- 51 शक्तिपीठों में विंध्याचल धाम क्यों है खास

    विंध्याचल धाम यानि माता विंध्यवासिनी का धाम।
  • <>X

    Kundli Tv- 51 शक्तिपीठों में विंध्याचल धाम क्यों है खास

    मान्यताओं के अनुसार मां विंध्यवासिनी देवी दुर्गा का ही एक रूप है जिन्होंने महिषासुर नामक राक्षस का वध किया था।
  • <>X

    Kundli Tv- 51 शक्तिपीठों में विंध्याचल धाम क्यों है खास

    ये धाम उत्तर प्रदेश के वाराणसी ज़िले से लगभग 70 किलोमीटर की दूरी मिर्जापुर में स्थित है।
  • <>X

    Kundli Tv- 51 शक्तिपीठों में विंध्याचल धाम क्यों है खास

    उत्तर प्रदेश में गंगा नदी से लगभग 8 किलोमीटर की दूरी पर मां विंध्यवासिनी का मंदिर स्थित है।
  • <>X

    Kundli Tv- 51 शक्तिपीठों में विंध्याचल धाम क्यों है खास

    कहते हैं जब कंस को इस बात का पता चला कि उसकी बहन ने एक और संतान को जन्म दिया है तो वह फ़ौरन उसकी हत्या करने के लिए कारगार में पहुंच गया।
  • <>X

    Kundli Tv- 51 शक्तिपीठों में विंध्याचल धाम क्यों है खास

    एेसी मान्यता है कि तब से देवी विंध्य पर्वत पर ही निवास करती हैं।
  • <>X

    Kundli Tv- 51 शक्तिपीठों में विंध्याचल धाम क्यों है खास

    विंध्य पर्वत पर ही माता को समर्पित विंध्यवासिनी मंदिर स्थित है।
  • <>X

    Kundli Tv- 51 शक्तिपीठों में विंध्याचल धाम क्यों है खास

    अपने इस रूप में या तो माता असुर का गला काटते दिखाई देती है
  • <X

    Kundli Tv- 51 शक्तिपीठों में विंध्याचल धाम क्यों है खास

    माना जाता है कि अग्नि में भस्म होने के पश्चात् जहां जहां देवी सती के अंग गिरे थे वे स्थान शक्तिपीठ कहलाए।