• >X

    Kundli Tv- रात को यहां देवता-किन्नर करते हैं बादाम-अखरोट की दावतें!

    गर्भगृह के ऊपर का अंदरूनी भाग स्पष्ट करता है कि मंदिर सैंकड़ों वर्ष पुराना है।
  • <>X

    Kundli Tv- रात को यहां देवता-किन्नर करते हैं बादाम-अखरोट की दावतें!

    मंदिर के बाहर झरना है जिसमें तीन पाइप लगा दिए गए हैं। इन पाइपों से लगातार निर्मल शीतल जल बहता रहता है।
  • <>X

    Kundli Tv- रात को यहां देवता-किन्नर करते हैं बादाम-अखरोट की दावतें!

    सीताबनी, जिला नैनीताल। यहां की यात्रा आत्मिक शांति देती है। प्रकृति के मनोरम दृश्यों को निकट से देखने का सौभाग्य मिलता है।
  • <>X

    Kundli Tv- रात को यहां देवता-किन्नर करते हैं बादाम-अखरोट की दावतें!

    प्रकृति के मनोहारी दृश्य और जंगली जानवरों को निकट से देखने का शौक अगर आपको है तो इस रास्ते से अवश्य जाइए।
  • <>X

    Kundli Tv- रात को यहां देवता-किन्नर करते हैं बादाम-अखरोट की दावतें!

    रामनगर से काला ढूंगी की ओर पक्की सड़क पर 13 कि.मी. दूर बैल पड़ाव तक का है। वहां से पक्की सड़क जाती है 7 कि.मी. दूर पवलगढ़ तक, फिर पवलगढ़ से घने जंगल का रास्ता लगभग 10 कि.मी. तक आपको सीताबनी पहुंचा देता है।
  • <>X

    Kundli Tv- रात को यहां देवता-किन्नर करते हैं बादाम-अखरोट की दावतें!

    आधुनिक संचार सुविधाओं से दूर यह स्थल निश्चित ही मन को शांति प्रदान करता है। इस स्थल के बारे में अनेक किंवदंतियां जनमानस में प्रचलित हैं तथा रात को यहां देवता/ किन्नर सशरीर आते हैं, बादाम-अखरोट की दावतें आदि होती हैं।
  • <>X

    Kundli Tv- रात को यहां देवता-किन्नर करते हैं बादाम-अखरोट की दावतें!

    उत्तराखंड में कुछ अति दुर्गम स्थल भी हैं जहां केवल साहसी श्रद्धालु ही पहुंच पाते हैं। ऐसा ही एक स्थल है सीताबनी, जिला नैनीताल।
  • <X

    Kundli Tv- रात को यहां देवता-किन्नर करते हैं बादाम-अखरोट की दावतें!

    प्रकृति के मनोरम दृश्यों को निकट से देखने का सौभाग्य मिलता है।